18 फ़रवरी 2010

हम रहे या ना रहे



हम तेरे साथ चलेंगे ,

तू चले या न चले ,

तेरा हर दर्द सहेंगे ,

तू कहे न कहे ,

तेरी परछाई बन के रहेंगे ,

तू माने या ना माने ,

हम चाहते है की ,

आप सदा खुश रहे दोस्त

हम रहे या ना रहे |



संजय भास्कर