01 फ़रवरी 2010

हर नई सुबह नया पैगाम लाती है

 
 हर नई सुबह एक नया पैगाम  लाती है 
आदत मुस्कुराने की तरफ़ से
सभी ब्लॉग उपयोगकर्ताओ को प्रातः कालीन नमस्कार
फ्रॉम
संजय भास्कर